yogi government 2024 : योगी सरकार का इतिहास में बड़ा कदम: 115 साल पुराने उर्दू कानून में बदलाव, अब नौकरी में मिलेगी गारंटी

yogi government 2024

yogi government 2024

yogi government 2024 –  का ऐतिहासिक कदम: नागालैंड-फारसी से हटा दिया गया, नौकरी की साध्वियों के आगमन में बदलाव”उत्तर प्रदेश सरकार ने रजिस्ट्री दस्तावेजों से उर्दू और फारसी के शब्दों को हटाने का ऐतिहासिक फैसला लिया है। इसके अतिरिक्त, उप-रजिस्ट्रारों के लिए उर्दू परीक्षा की अनिवार्यता समाप्त कर दी जाएगी। लोक सेवा आयोग द्वारा चयनित होने के बावजूद, उप-पंजीयकों को स्थायी नौकरी सुरक्षित करने के लिए इस परीक्षा को उत्तीर्ण करना आवश्यक था।

UP Police Recruitment 2024 : 12वीं पास के लिए एक समृद्ध कैरियर अवसर के साथ अपनी क्षमता को उजागर करें 81,000 वेतन पैकेज का लाभ उठाएं

इसका कारण सरकारी दस्तावेज़ों में उर्दू और फ़ारसी शब्दों का व्यापक प्रयोग था। योगी सरकार ने अब पंजीकरण अधिनियम 1908 में संशोधन करते हुए इन शब्दों को आम हिंदी शब्दों से बदलने का फैसला किया है।उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार पंजीकरण अधिनियम 1908 में संशोधन करने के लिए तैयार है, जो राज्य में रजिस्ट्रियों को नियंत्रित करता है। यह कानून अंग्रेजों द्वारा पेश किया गया था और आधिकारिक दस्तावेजों में उर्दू और फारसी को प्रमुखता दी गई थी, जिसके परिणामस्वरूप कई जटिल शब्द सामने आए, जिन्हें समझना अक्सर उन लोगों के लिए चुनौतीपूर्ण होता है जो हिंदी में अच्छी तरह से नहीं जानते हैं।

yogi government 2024

प्रशिक्षण कार्यक्रम yogi government 2024 

यहां तक कि सरकारी दस्तावेजों में इनके व्यापक उपयोग के कारण रजिस्ट्री अधिकारियों को भी इन भाषाओं को सीखना पड़ा। लोक सेवा आयोग के माध्यम से भर्ती किए गए उप-रजिस्ट्रारों को स्थायी पद सुरक्षित करने के लिए एक विशेष उर्दू परीक्षा उत्तीर्ण करनी होती थी।इन भाषाओं की जटिलता ने उन उम्मीदवारों के लिए एक चुनौती पेश की जो मूल हिंदी भाषी नहीं थे, जिसके कारण एक विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम की आवश्यकता हुई। yogi government 2024

UP Police Recruitment 2024 : 12वीं पास के लिए एक समृद्ध कैरियर अवसर के साथ अपनी क्षमता को उजागर करें 81,000 वेतन पैकेज का लाभ उठाएं

इस कार्यक्रम में उर्दू में लिखना, टाइपिंग, बोलना, व्याकरण और अनुवाद शामिल था। भाषा सीखने की अवधि दो साल तक फैली, जिसके दौरान चयनित उम्मीदवारों को परीक्षा से गुजरना पड़ा। इस परीक्षा को उत्तीर्ण किये बिना अभ्यर्थी स्थायी रोजगार के पात्र नहीं थे।हालाँकि, राज्य सरकार ने अब निर्णय लिया है कि सरकारी दस्तावेजों में उर्दू और फ़ारसी का निरंतर उपयोग अनावश्यक है। इसके बजाय, अधिकारियों को विशेष प्रशिक्षण से गुजरना होगा

yogi government 2024

ऐतिहासिक कदम yogi government 2024 

और फिर अपनी नियुक्तियों की पुष्टि के लिए परीक्षा देनी होगी। विशेष रूप से, योगी आदित्यनाथ सरकार ने भाषा परीक्षा के स्थान पर कंप्यूटर ज्ञान को चुना है।यह निर्णय सरकारी प्रक्रियाओं को सरल बनाने और भाषाई समावेशिता को बढ़ावा देने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। भाषा संबंधी बाधाओं को दूर करके, सरकार का लक्ष्य एक अधिक सुलभ और कुशल प्रशासनिक प्रणाली बनाना है।

yogi government 2024

उत्तर प्रदेश में रजिस्ट्री कार्य में शामिल लोगों के लिए बदलाव की गारंटी के साथ नौकरी की सुरक्षा सुनिश्चित करने वाले इस ऐतिहासिक कदम में आधुनिकीकरण और समावेशिता के प्रति योगी सरकार की प्रतिबद्धता स्पष्ट है।

More news and updates :- https://jobnewupdates.com

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *